Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


रामजन्मभूमिके पाससे ८ संदिग्ध गिरफ्तार

लखनऊ (आससे) । रामजन्म भूमि चेक पोस्ट के पास आतंकियों के होने की अफवाह से हड़कम्प मच गया। आनन फानन मे सक्रिय सुरक्षा एजेँसियो ने आठ संदिग्ध लोगो को गिरफ्तार कर लिया हैं ।हलाकि अफसरों का कहना था कि कोई आतंकी नही हैं ।जाँच पड़ताल मे संदिग्ध लोगो का कोई भी अपराधिक इतिहास प्रकाश मे नही आया हैं ।आईण्जीण् एटीएस अशीम अरुण ने बताया कि आज शनिवार को रात्रि समय करीब दो बजे  रामजन्मभूमि चेकपोस्ट के पास तैनात सुरक्षाकर्मियों द्वारा एक जीप वाहन आरजे .सी . 4094 को संदेह के आधार पर रोका गया जिसमें सवार आठ युवकों मो0 सईद पुत्र मो0 अनवर व मो0 मदनी पुत्र अबु रऊफ तथा मो0 इरफान पुत्र सहजुदीन व मो0 अब्दुल वाहीद पुत्र अब्दुल्ला व  मो0 शकील पुत्र हनीफ तथा  मो0 साकीर पुत्र मो0 सईद व मो0 रजा पुत्र अब्दुल रहमान तथा मो0 हुसैन पुत्र शौकत अली  निवासीगण  खलीलनगर गॉव बासने थाना सदर जिला नागौर राजस्थान  को स्थानीय पुलिस द्वारा गिरफतार कर विधिक काररवायी  की गई है। एटीएस के अपर पुलिस अधीक्षक  राजेश साहनी के नेतृत्तव में अयोध्या पहॅुची टीम द्वारा भी पूछताछ की गयी। युवकों से पूछताछ में जानकारी मिली कि  सभी युवक एक ही गॉव खलील नगर बॉसने के निवासी हैं तथा ये लोग  15 नवम्बर 2017 को नागौर राजस्थान से जियारत करने निकले थे जो अजमेर शरीफ व आगरा तथा कासगंज व  बहराईच से अयोध्या होते हुए अकबरपुर बसखारी के किछौछा शरीफ जा रहे थे। नागौर पुलिस के मुताबिक युवकों का कोई आपराधिक इतिहास नहीं हैा युवकों से सुरक्षा से संबंधित समस्त आवश्यक बिन्दुओं पर पूछताछ तथा जानकारी ली जा रही।
---------------
लखनऊमें आतंकी होने की फर्जी सूचना से हड़कंप
लखनऊ। राजधानी लखनऊ में एक आतंकवादी छिपे होने की सूचना से पुलिस महकमें में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में पुलिस अधिकारियों ने एटीएस की मदद से घेराबंदी की। पुलिस के सर्च ऑपरेशन में मामला फर्जी निकला। इसके बाद अधिकारियों ने राहत की सांस ली। सूचनाकर्ता की हरदोई में मिली लोकेशन एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि शनिवार को एक व्यक्ति ने सूचना दी कि लखनऊ के गोसाईंगंज थाना क्षेत्र के मुल्लाखेड़ा में आतंकवादी छिपा है। आतंकी होने की जैसे ही पुलिस को  सूचना मिली वैसे ही पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। सुबह करीब 10.00 बजे सूचना मिलते ही थाना प्रभारी गोसाईगंज विद्यासागर पाल पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। अचानक गांव में पुलिस पहुंचते ही ग्रामीणों में दहशत पैदा हो गई। पुलिस ने गांव में सर्च अभियान चलकर तलाशी ली लेकिन कुछ नहीं मिला। इसके बात एटीएस की टीम ने भी गांव में तलाशी ली। पुलिस ने सूचनाकर्ता का पता लगाया तो उसकी लोकेशन हरदोई में मिलने की सूचना मिली है। पुलिस की घेराबंदी के घंटों बाद तक गांव के लोग भयभीत रहे।