Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


बीएस-६ उत्सर्जन नियमसे वायु प्रदूषण ३० फीसदी कम

नयी दिल्ली (आससे)। केंद्र सरकार ने कहा है कि अगले वर्ष भारत स्टेज  (बीएस-६) उत्सर्जन नियम को लागू कर दिया जाने के बाद वाहनों से होने वाले प्रदूषण में २८ से ३० फीसदी की कमी आ जायेगी। विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य में यहां आयोजित एक समारोह को संबोधित करते हुये वन एवं पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि बीएस-६ उत्सर्जन नियम को लागू करने की दिशा में अबतक ६० हजार करोड़ रुपये का निवेश किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि जब सरकार और समाज आपस में तालमेल कायम करके काम करेंगे तभी वायु प्रदूषण की समस्या समाप्त होगी। जावड़ेकर ने कहा कि सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया के लोग वायु प्रदूषण की समस्या से जूझ रहे हंै। हर एक देश को अपना रास्ता खोजना होगा।  भारत अपना रास्ता खोजेगा और प्रदूषण को मात देगा। उन्होंने कहा कि पेरिस समझौते के तहत हमने जो लक्ष्य निर्धारित किये हैं, प्रयास होगा कि उससे भी बेहतर लक्ष्य हासिल किया जाय। बीएस-६ उत्सर्जन नियमसे ३० फीसदी कम होगा वायु प्रदूषण-जावडेकर
नयी दिल्ली (आससे)। केंद्र सरकार ने कहा है कि अगले वर्ष भारत स्टेज  (बीएस-६) उत्सर्जन नियम को लागू कर दिया जाने के बाद वाहनों से होने वाले प्रदूषण में २८ से ३० फीसदी की कमी आ जायेगी। विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य में यहां आयोजित एक समारोह को संबोधित करते हुये वन एवं पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि बीएस-६ उत्सर्जन नियम को लागू करने की दिशा में अबतक ६० हजार करोड़ रुपये का निवेश किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि जब सरकार और समाज आपस में तालमेल कायम करके काम करेंगे तभी वायु प्रदूषण की समस्या समाप्त होगी। जावड़ेकर ने कहा कि सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया के लोग वायु प्रदूषण की समस्या से जूझ रहे हंै। हर एक देश को अपना रास्ता खोजना होगा।  भारत अपना रास्ता खोजेगा और प्रदूषण को मात देगा। उन्होंने कहा कि पेरिस समझौते के तहत हमने जो लक्ष्य निर्धारित किये हैं, प्रयास होगा कि उससे भी बेहतर लक्ष्य हासिल किया जाय।  जावड़ेकर ने कहा कि समन्वित प्रयास से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हवा की गुणवत्ता बढ़ी है। उन्होंने बताया कि २०१४ में खराब वायु गुणवत्ता ३०० थी जो २०१८ में घटकर २०६ हो गयी। उन्होंने उम्मीद जाहिर की कि इस वर्ष इसमें और कमी आयेगी।