Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


नेतन्याहूने दिया जय हिंद, जय भारत, जय इजराइलका नारा

अहमदाबादमें स्वागतके लिए उमड़ा जनसैलाब,साबरमती आश्रममें बापूको किया नमन
अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके इसराईल समकक्ष बेंजामिन नेतन्याहू ने आज यहां कड़ी सुरक्षा के बीच शहर में रोड शो किया। रोड शो के दौरान सड़क के दोनों तरफ हजारों लोग कतारबद्ध खड़े थे। मोदी के गृह राज्य पहुंचने पर दोनों नेता इसराईल प्रधानमंत्री की पत्नी सारा नेतन्याहू के साथ यहां कार से सरदार वल्लभभाई पटेल हवाईअड्डे से निकले। आठ किलोमीटर लंबा रोड शो करने के बाद मोदी नेतन्याहू और उनकी पत्नी सारा के साथ साबरमती आश्रम गए। इसके बाद मोदी और नेतन्याहू ने आइक्रिएट सेंटर का उद्घाटन कर उद्योगपतियों से मुलाकात की। उद्योगपतियों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हम नवोन्मेष अनुकूल प्रणाली के लिए प्रयास कर रहे हैं जिससे ऐसा भारत बन सके जिसमें नवोन्मेष और इच्छाशक्ति हो। वहीं नेतन्घ्याहू ने भी उद्योगपतियों को संबोधित किया। अपने संबोधन के आखिर में उन्होंने जय हिंद! जय भारत! के साथ जय इसराईल का नारा दिया। इस दौरान सड़क के किनारे करीब 50 मंच बनाए गए थे जहां से अतिथियों के स्वागत के लिए विभिन्न राज्यों से आए कलाकार अपनी प्रस्तुति दे रहे थे। शानदार तरीके से सजाई गई सड़क के दोनों तरफ भारत और इसराईल के झंडे लिए बड़ी संख्या में लोग कतारबद्ध खड़े थे। मोदी और नेतन्याहू ने हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। करीब आठ किलोमीटर का सफर तय करने के बाद महात्मा गांधी के साबरमती आश्रम पर यह रोड शो खत्म हुआ। आश्रम में गांधी के घर हृदय कुंज में मोदी ने उन्हें गांधी का कमरा और उनके द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली चीजें दिखाईं। नेतन्याहू और उनकी पत्नी ने बापू के चरखे पर भी हाथ आजमाया। इस दौरान आश्रम की आगंतुक पुस्तिका में नेतन्याहू और उनकी पत्नी सारा ने चार पंक्तियों का संदेश लिखा। उस पर दोनों ने हस्ताक्षर किए हैं। संदेश में इसराईल से आए अतिथि दंपति ने लिखा कि उनका यह दौरा प्ररेणादायक रहा। इसराईल के प्रधानमंत्री और उनकी पत्नी करीब बीस मिनट तक आश्रम परिसर में रहे। इसके बाद उन्होंने कुछ समय के लिए पतंग भी उड़ाई। मोदी और उनके इसराईली समकक्ष नेतन्याहू यहां अपनी यात्रा के दौरान एक उद्यमिता और प्रौद्योगिकी केंद्र राष्ट्र को सर्मिपत किया। गुजरात सरकार के सार्वजनिक निजी भागीदारी वाले निकाय अंतर्राष्ट्रीय उद्यमिता और प्रौद्योगिकी केंद्र (आईक्रिएट) का गठन उद्यमियों को आगे बढ़ाने के लिए किया गया है। यह उद्यमियों को कोष, जगह, संरक्षण और अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराएगा। दोनों प्रधानमंत्री दोनों देशों की 38 उद्यमशीलता परियोजनाओं को भी पुरस्कृत किया। इनमें से 18 परियोजनाएं भारत की और 20 इसराईल की हैं। आईक्रिएट की विज्ञप्ति में कहा गया है कि सितंबर  2012 में गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी ने आईक्रिएट के परिसर के लिए देव धोलेरा में 40 एकड़ के प्लॉट में भूमि पूजन किया था। दोनो स्टार्ट अप के सीईओ तथा नवाचार करने वालों से मिलेंगे। वे वीडियो लिंक के जरिए बनासकांठा के सुईगाम तालुका को पानी का खारापन मिटाने वाले एक सचल वैन भी समर्पित करेंगे। शाम करीब पांच बजे नेतन्याहू मुंबई रवाना हो जाएंगे। उल्लेखनीय है कि 14 जनवरी को नेतन्याहू के साथ उनकी पत्नी सारा और 130 सदस्यों के प्रतिनिधिमंडल के साथ नई दिल्ली पहुंचा था। उनकी यह भारत यात्रा मोदी की इजराईल यात्रा के महज छह महीने बाद हो रही है हालांकि किसी इजराईली प्रधानमंत्री का यह 15 साल के लंबे अंतराल के बाद हो रहा भारत दौरा है। इससे पहले इजराईल के पूर्व प्रधानमंत्री ऐरियल शेरोन 2003 में भारत आए थे। वह 19 जनवरी को स्वदेश लौट जांएगे।
----------------
गांधी आश्रममें नेतन्याहू, मोदी उड़ायी पतंग
अहमदाबाद। इजरायल के प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतनयाहू बुधवार को गुजरात के अतिथि बने। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नेतन्याहू ने अहमदाबाद हवाई अड्डे से साबरमती आश्रम तक रोड शो किया। फिर दोनों नेताओं ने गांधी आश्रम का दौरा किया। इजरायल के पीएम ने महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की और उसके बाद चरखा भी काता। नेतन्याहू ने गांधीजी की मूर्ति की प्रतिमा को पुष्पांजलि दी। मोदी और नेतन्याहू ने ह्रद्रकुंज की यात्रा के साथ गांधीजी की प्रतिमा को पुष्पांजलि दी। विशेष रूप से गांधी आश्रम में नेतन्याहू ने अपनी पत्नी के साथ  पतंग उ?ाई। जब इजरायल के प्रधानमंत्री भूमि पर बैठकर चरखा चला रहे थे तो उनकी पत्नी भी साथ थी। इसके बाद पतंग उ?ाते समय प्रधानमंत्री मोदी ने इस समय पतंग का महत्व भी समझाया।