Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


पाकिस्तानियोंके पास नहीं थे ईद मनानेके पैसे

इस्लामाबाद(एजेंसी)। ईद का त्यौहार पूरी दुनिया में जहां धूमधाम से मनाया गया वहीं पाकिस्तान के लोगों का हाल बेहाल दिखा। पाकिस्तान में बुधवार को यह त्योहार मनाया गया लेकिन आर्थिक संकट के चलते लोग अपना पंसदीदा त्यौहार मनमाफिक व जिंदादिली से नहीं मना सके। खासतौर पर महंगाई से पस्त गरीब तबके के लोग मायूस दिखे। ऐसे में प्रधानमंत्री इमरान खान ने पाकिस्तान के नागरिकों को ईद की बधाई देने के साथ एहतियात बरतने की सलाह दे डाली। उन्होंने देश के आर्थिक संकट पर अपने विचार रखते हुए नागरिकों से संकल्प लेने को कहा, चलिए हम सभी अपने समाज के गरीब तबके पर कम से कम बोझ डालते हुए अपने आर्थिक संकट को दूर करने के लिए एकजुट राष्ट्र के रूप में खड़े होने का संकल्प लें। इस दौरान इमरान खान की नमाज पढ़ते हुए तस्वीरें सामने आईं। उन्होंने इस्लामाबाद में नमाज पढ़ी। इसके अलावा पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने भी कई देशों के राजनयिकों के साथ इस्लामाबाद की फैजल मस्जिद में नमाज पढ़ी। कराची में ईद की शुरुआत ही 21 तोपों की सलामी के साथ हुई। यहां पर एक पुराना पोलो ग्राउंड है. जिसका ऑफिशियलनाम गुलशन-ए-जिन्ना है। वहां नमाज का मुख्य कार्यक्रम आयोजित किया गया था। हालांकि खैबर पख्तूनख्वा में ईद का त्योहार मंगलवार को ही मना लिया गया था। यहां के गवर्नर ने ऐलान किया था कि रमजान के बाद का पहला दिन वहां मंगलवार को ही माना जाएगा। बता दें कि पाकिस्तान पर वैश्विक आर्थिक एजेंसियों के अलावा चीन का भी बहुत सारा कर्ज है। उसने बहुत सा कर्ज भारत के खिलाफ लड़ाई के लिए रक्षा जरूरतों के चलते भी ले रखा है। चीन अभी भी उसे कर्ज दे रहा है और यह सारा कर्ज उसकी जर्जर आर्थिक स्थिति के बीच मिल रहा है।