Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


जापानने कोलम्बियाको चौकाया

फीफा विश्वकप :किसी एशियाई देशने पहली बार विस्वकपमें दक्षिण अमेरिकी टीमको हराया
सरांस्क (एजेन्सियां)। मोरदोविया एरिनामें ग्रुप एच के पहले मुकाबलेमें जापानने कोलंबियाको २-१ से पराजित कर दिया। ये पहली बार है कि जब किसी एशियाई देशने दक्षिण अमेरिकी देशको विश्वकपमें हराया है। जापानके लिए छठे मिनटमें कगावा ने पेनल्टीसे और ७३वें मिनटमें ओसाको ने गोल किया। कोलंबियाके मिडफील्डर कार्लोस सांचेज फीफा विश्वकप २०१८ में लाल कार्ड हासिल करने वाले पहले खिलाड़ी बने। सांचेज ने मैचमें तीसरे मिनट में ही शिंजी कगाव का शाट हाथसे रोका और रेफरीने तुरंत ही उन्हें लाल कार्ड दिखा दिया। इस तरहसे कोलंबिया ो मैच के शुरू से ही दस खिलाडिय़ों के साथ खेलना पड़ा। पहले ग्रुप मैच में अपनी अच्छी किस्मत के साथ उतरी जापानकी टीम को तीसरे ही मिनटमें पेनाल्टीपर गोल करनेका अवसर मिला। जापान के खिलाडिय़ोंसे मिले पासको रोकनेकी कोशिश कर रहे कोलंबियाके खिलाड़ी कार्लोस सांचेजके हाथसे फुटबाल टकरा गयी। ऐसेमें जापानको पेनाल्टी और सांचेजको रेड कार्ड दिया गया। बोरूसिया डार्टमंड क्लबके मिडफील्डर शिंजी कगावाने छठे मिनट में सीधा शाट मारकर गोल करते हुए जापानका खाता खोला।  ये इस वल्र्ड कपका दूसरा सबसे कम समयमें गोल था। इससे पहले रोनाल्डोने स्पेनके खिलाफ चौथे मिनटमें गोल किया था। कोलंबियाको ११वें मिनटमें फ्री किक मिली। कप्तान रडामेल फाल्काओने शॉट मारा लेकिन जापानके गोलकीपर एइजी कवाशीमाने इसे नाकाम कर दिया। कोलंबियाको जापानके गोल पोस्ट तक पहुंचनेका अवसर तो मिल रहा था लेकिन वह उसके डिफेंसको भेद नहीं पा रही थी। इस बीच एक बार फिर ३९वें मिनटमें कोलंबिया कप्तान फाल्काओने गोल पोस्टके पास पहुंच सीधा शाट मारा और एक बार फिर जापानके गोलकीपर कवाशीमाने उनकी कोशिश को नाकाम कर दिया। इतनी कोशिशों के बाद आखिरकार १० खिलाडिय़ोंके साथ खेल रही कोलंबियाको सफलता हाथ लगी। उसने फ्री किकपर मिले अवसरको भुनाया। जुआन क्विंटेरोने सीधा शाट मारकर फुटबालको गोल पोस्ट तक पहुंचाया और स्कोर १-१ से बराबर कर लिया। बराबरीके साथ ही पहले हाफका समापन हो गया। अपने डिफेंसको और भी मजबूत कर दूसरे हाफमें उतरी कोलंबियाने ५४वें मिनट में जापानकी ओरसे की गयी गोलकी एक अच्छी कोशिशको नाकाम कर दिया। ओसाकाने शाट मारा लेकिन कोलंबियाके गोलकीपर ओस्पिनाने इसे बेहतरीन तरीकेसे बचा लिया। जापानके खिलाड़ी दूसरे हाफमें कई बार कोलंबियाके गोल पोस्ट तक पहुंचे लेकिन गलत शाटके कारण बढ़त हासिल नहीं कर पाये। फ्री किक से मिले एक मौके को उसने गंवा दिया। अपने नये कोच अकिरा निशिनो के साथ इतिहास बदलने के इरादे से उतरी एशियाई टीम ने ७०वें मिनट में जापान के लिए कगावा के स्थान पर सब्सटिट्यूट बनकर आये किउस्के होंडा ने ७३वें मिनट में कार्नर से शॉट मारा जिसे युया ओसाको ने हेडर से कोलंबिया के गोल पोस्ट तक पहुंचाकर जापान को २-१ की बढ़त दे दी। जापान का डिफेंस और गोलकीपर कावाशीमा इस मैच में अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे। साल २०१४ में गोल्डन बूट के विजेता जेम्स रोड्रिगेज ने दूसरे हाफ में इस मैच में कदम रखा और गोल करने का अवसर भी हासिल किया लेकिन कावाशीमा ने ७८वें मिनट की इस कोशिश को नाकाम कर दिया। अपने डिफेंस के साथ कोलंबिया की सारी कोशिशों को नाकाम करते हुए अंत में जापान ने २-१ से जीत हासिल की।