Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


संघटनमें फिलहाल फेरबदल नहीं-महेंद्रनाथ

विन्ध्याचल (मीरजापुर)। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र पाण्डेय ने नवरात्र के प्रथम दिन रात्रि करीब नौ बजे माँ विन्ध्यवासिनी के चरणों में मत्था टेका।
दर्शन-पूजन के पश्चात् पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने कहा कि मैं छात्र जीवन से ही परंपरागत रूप से माँ के दर्शन को आता रहा हूं। उत्तर प्रदेश व केंद्र सरकारों की जनहित योजनाओं का लाभ प्रदेश की जनता को मिले यही दायित्य मुझे पार्टी से मिला है जिसे मैं शत प्रतिशत पूर्ण करने के प्रयास में रत हूं। उन्होंने कहा कि निकाय चुनाव के पूर्व संगठन में कोई भी फेरबदल नहीं किया जायेगा। इसमें मैं सफल होउं इसी कामना के लिए आज मैंने मां से आशीर्वाद मांगा है। साथ ही मैं सभी शुभेच्छुओं के परिवार के मंगल की कामना करता हूँ। किसान ऋण मोचन योजना के माध्यम से प्रदेश सरकार ने 34 हजार करोड़ रुपये के बजट से 86 लाख किसानों का कर्ज माफ किया, जिसमे अभी कुछ किसानों को ऋणमोचन चेक नहीं प्राप्त हुआ है, जो जल्द ही उन्हें प्राप्त हो जाएगा। इतने बड़े पैमाने पर किसानों का कर्जा पहली बार हुआ है जबकि पूर्व सरकारों ने सिर्फ बातें ही की। बिजली संकट पर उन्होंने कहा कि उत्पादन में काफी कमी के कारण बिजली आपूर्ति में कमी आई है, जिस पर हमलोंगो ने कई महत्वपूर्ण बैठक की है और जल्द ही आपूर्ति सामान्य हो जाएगी। जीएसटी द्वारा टैक्स जमा होने के मामले में उत्तर प्रदेश देश का सबसे बड़ा प्रदेश साबित हुआ है। पूरे भारत मे सबसे ज्यादा धन टैक्स के रूप में यहीं जमा हुआ है। जीएसटी के पश्चात् आमलोंगो पर महंगाई के बोझ के मुद्देपर उन्होंने कहा कि इंतजार किजिये लोगो को इससे बड़ा लाभ होगा। गड्ढामुक्त सड़को की बाबत उन्होंने बताया कि बरसात के पश्चात् युद्ध स्तर पर कार्य मे तेजी करके बहुत जल्द ही प्रेदेश की सड़कों को गड्ढा मुक्त कर लिया जाएगा। भाजपा कार्यकर्ता जनता की तमाम परेशानियों के मुद्दों पर सम्बंधित अधिकारियों से मिलते है जो भी अधिकारी इनकी बातों को अनसुनी करेगा उस पर आवश्यक कार्यवाई की जाएगी। प्रदेश में हजारों भू-माफियाओं पर कार्यवाई हुई है और उनसे जमीनों को अवमुक्त कराया गया है।
बैंक खातों में कम धनराशि होने पर बैंको द्वारा जो टैक्स लिए जाते है उससे ज्यादा नुकशान गरीबो को ही होता है। उस प्रश्न के उत्तर में प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि इस संदर्भ में आवश्यक जानकारी प्राप्त कर पार्टी के बड़े नेताओं से चर्चा करूँगा। पत्रकार वार्ता के दौरान नगर विधायक रत्नाकर मिश्र, जिलाध्यक्ष बालेंदुमणि त्रिपाठी के अलावा काफी संख्या में भाजपाई मौजूद रहे।
-------------
भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक २५ को
नयी दिल्ली (एजेंसी)। भाजपा २५ सितंबर को पार्टी की विस्तारित कार्यकारिणी में अगले लोकसभा चुनाव की रणनीति का तानाबाना बुनेगी। साल २०१९ के लोकसभा चुनाव में अभी डेढ़ साल बचा है लेकिन भाजपा कोई कसर नहीं छोडऩा चाहती है। लिहाजा सभी सांसदों, सभी विधायकों एवं पार्षदों के साथ प्रदेश इकाइयों के अध्यक्षों समेत २००० नेताओं को इसमें शामिल होने के लिये बुलाया गया है। भाजपा  सूत्रों ने बताया कि बैठक के दौरान राजनीतिक प्रस्ताव पेश किया जायेगा जिसमें रोहिंग्या मुसलमानों के मुद्दे को शामिल किये जाने की संभावना है। राजनीतिक प्रस्ताव तैयार करने की जिम्मेदारी राम माधव और विनय सहस्रबुद्धे को सौंपी गयी है। इसके अलावा एक आर्थिक प्रस्ताव भी पेश किया जा सकता है जिसमें वस्तु एवं सेवा कर(जीएसटी) से आये आर्थिक बदलाव और नोटबंदी के कारण बदली परिस्थितियों का जिक्र हो सकता है। उल्लेखनीय है कि रोहिंग्या मुसलमानों के मुद्दे पर सरकार के रूख की कुछ विपक्षी दलों समेत एक वर्ग आलोचना कर रहा है। दूसरी ओर वस्तु एवं सेवा कर(जीएसटी) और नोटबंदी के मुद्दे पर भी सरकार, कांग्रेस समेत कुछ विपक्षी दलों के निशाने पर है। कार्यक्रम आयोजन के लिये दिल्ली प्रदेश में समन्वय स्थापित करने की जिम्मेदारी कैलाश विजयवर्गीय को सौंपी गई है। भाजपा की विस्तारित राष्ट्रीय कार्यकारणी की यह बैठक दीनदयाल उपाध्याय जन्मशती समारोह के समापन के अवसर पर आयोजित की जा रही है। पार्टी नेताओं का कहना है कि बैठक के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संबोधन खास होगा जो कुछ राज्यों में आसन्न विधानसभा चुनाव और २०१९ के लोकसभा चुनाव की दिशा तय करेंगे। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी लगातार अलग-अलग राज्यों का दौरा कर पार्टी कार्यकर्ताओं में नई ऊर्जा का संचार करने का प्रयास कर रहे हैं। भाजपा पिछले एक साल से पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष मना रही है जो पिछले साल केरल के कोझिकोड में पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक के दौरान तय हुआ था। बैठक में पार्टी के सभी २८१ लोकसभा सदस्य, राज्यसभा के ५७ सदस्य, १४०० विधायक और विधान पार्षद, कोर ग्रुप के सदस्य और प्रदेश इकाइयों के अध्यक्ष एवं महामंत्री शामिल होंगे। राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में आमतौर पर स्थायी और विशेष आमंत्रित सदस्यों समेत २०० से कम सदस्य हिस्सा लेते हैं। इस बार इसमें हिस्सा लेने वालों की संख्या २००० के आसपास होगी। सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रीय कार्यकारणी की बैठक के विषयों पर २४ सितंबर को पदाधिकारी मंथन करेंगे। दिल्ली में होने वाली भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के लिए राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं दिल्ली भाजपा के प्रभारी श्याम जाजू एवं राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल ने गुरुवार को दिल्ली भाजपा नेताओं के साथ तैयारियों की समीक्षा की। दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने बताया कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी के लिए सभी १९ विभागों के कार्यों का विभाजन किया गया है। उल्लेखनीय है कि पिछले एक साल में भाजपा ने एक प्रयोग करते हुए पार्टी के विस्तार के लिए पूर्णकालिक सदस्यों को खास जिम्मेदारी सौंपी है। दीनदयाल विस्तारक योजना के तहत भाजपा देश भर में अपने इन पूर्णकालिक सदस्यों की सेवा ले रही है। उन स्थानों पर पूर्णकालिक सदस्यों को ज्यादा बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई है जहां पार्टी कमजोर है। इनमें कुछ पूर्णकालिक सदस्य १५ दिन के लिए, कुछ छह महीने के लिए तो कुछ ने एक साल तक पार्टी के लिए काम किया है। माना जा रहा है कि पहली बार संघ से प्रेरणा लेकर भाजपा के पूर्णकालिक की अवधारणा को पार्टी के भीतर भी लागू किया। पिछले एक साल में इस प्रयोग से मिल रही सफलता से पार्टी अध्यक्ष अमित शाह बेहद उत्साहित हैं। भाजपा सूत्रों का कहना है कि पार्टी दीनदयाल विस्तारक परियोजना की सफलता से उत्साहित होकर इसे और आगे बढ़ाने पर विचार कर रही है।