Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


मैं बेगुनाह, सीबीआईने मेरे खिलाफ चार्जशीट दाखिल नहीं की-चिदंबरम

नयी दिल्ली (आससे.)। करप्शन के मामले में गिरफ्तारी के संकट का सामना कर रहे पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम बुधवार को 27 घंटे बाद सबके सामने आए। वह रात करीब 8 बजे अचानक कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे और मीडिया के सामने अपना लिखित बयान पढ़ा। चिदंबरम ने खुद के फरार होने की खबरों को खारिज करते हुए कहा कि मुझे और मेरे बेटे कार्ति चिदंबरम को फंसाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मैं ढ्ढहृङ्ग मीडिया केस में आरोपी नहीं हूं। उन्होंने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मैं और मेरा परिवार किसी केस में आरोपी नहीं है। चिदंबरम ने मीडिया से कहा, स्वतंत्रता लोकतंत्र की सबसे बड़ी जीत है। चिदंबरम ने कहा कि यदि मुझे जिंदगी और आजादी के बीच में से कुछ चुनना हो तो मैं आजादी चुनूंगा। चिदंबरम ने कहा कि मेरे वकीलों ने मुझे सुप्रीम कोर्ट जाने की सलाह दी और मैंने यही किया। मैं कानून से संरक्षण मांग रहा हूं। चिदंबरम ने कहा,मेरे ऊपर आरोप लगाए जा रहे हैं कि मैं कानून का सामना करने से बचते हुए भाग रहा हूं। लेकिन, मैं कानून के साथ हूं और बीते एक दिन से मैं  वकीलों के साथ हूं। रातभर मैं वकीलों के साथ दस्तावेज तैयार कर रहा था। चिदंबरम ने कांग्रेस मुख्यालय में दिग्गज नेताओं के साथ बैठकर मीडिया के सामने लिखा हुआ भाषण पढ़ा और फिर बिना किसी सवाल का जवाब दिए ही उठकर चल दिए। मीडिया से बात करने के बाद पी. चिदंबरम अपने जोर बाग स्थित घर पहुंचे। एक तरफ पी. चिदंबरम कांग्रेस के दिग्गज नेताओं के साथ मीडिया से बात कर रहे थे तो पार्टी मुख्यालय के बाहर कार्यकर्ताओं का हुजूम था। कांग्रेस के कार्यकर्ता चिदंबरम के समर्थन में नारे लगा रहे थे। यही नहीं, चिदंबरम के घर के बाहर भी कार्यकर्ता बड़ी संख्या में पहुंचे हुए थे और नारेबाजी कर रहे थे। मंगलवार को दिल्ली हाई कोर्ट ने आईएनएक्स मीडिया केस में पी. चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया था। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को तत्काल उनकी याचिका पर सुनवाई से इनकार कर दिया और शुक्रवार को सुनवाई का फैसला लिया है। फिलहाल उन पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। इस बीच सीबीआई और ईडी ने उनके खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया है। अब वह देश से बाहर नहीं जा सकते।