Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


नवीनतम समाचार » दैनिक मंडी समीक्षा

दैनिक मंडी समीक्षा

नयी दिल्ली। उड़द में चौतरफा दाल मिलों की लिवाली चलने एवं हाजिर माल की कमी हो जाने से 100/150 रुपए की और तेजी आ गयी। इसकी दली हुई दाल भी 200 रुपए धोया व छिलका बढ़ गयी। इसके अलावा मूंग, तुवर, मसूर, चना भी 25/50 रुपए बढ़ गये। वहीं बारीक चावल, मुनाफावसूली बिकवाली से क्वालिटीनुसार 100 रुपए और नरम हो गये। चीनी भी मिलों में 10/15 रुपए घट गयी। गुड़-शक्कर 100 रुपए और टूट गये। बढ़े हुए भाव में ग्राहकी का समर्थन न मिलने से सरसों जयपुर लाइन में 35/40 रुपए एवं यहां 50 रुपए घट गयी। सरसों व बिनौला तेल भी 20/30 रुपए ढीले रहे। किराने में हल्दी-जीरा 100/200 रुपए बढ़ गये। जावित्री पीली 30 रुपए एवं लौंग 20 रुपए किलो बढ़ गयी। अन्य जिंसों में मिला-जुला रुख रहा।
अनाज-दाल- लातूर-उद्ïगीर एवं शिवपुरी-कटनी लाइन में उड़द की फसल फेल हो जाने से मंडियों में आवक का दबाव समाप्त हो गया है। दूसरी ओर विदेशी माल भी स्टॉक में न होने से पिछले महीने के छूटे हुए कंटेनरों का उड़द आयातक भाव बढ़ाकर बोलने लगे हैं। नीचे वाले भाव से अब तक एसक्यू 850/900 रुपए प्रति क्विंटल उछल चुकी है। आज भी मुंबई से लगातार लिवाली चलने से 150 रुपए की बढ़त पर 5350 रुपए का व्यापार हो गया। यहां भी माल कम होने एवं दाल मिलों की लिवाली से 150/160 रुपए की तेजी आ गयी। इसके अलावा मूंग 50 रुपए और बढ़कर एवरेज क्वालिटी की 5200/5600 रुपए बिक गयी। तुवर भी 25 रुपए बढ़कर 3725/3730 रुपए एवं मसूर बिल्टी में 3900 रुपए बोलने लगे। अनाजों में बारीक चावल, धान की आवक कम के बावजूद मुनाफावसूली बिकवाली से 100/150 रुपए और घटकर 1509 सेला 5900 रुपए एवं 1121 सेला 6900 रुपए रह गया। स्टीम में भी इसी अनुपात में मंदा आ गया, लेकिन यहां से फिर तेजी की संभावना बनने लगी है। बाजरा भी नये माल की बिकवाली आने एवं राजपुरा, पानीपत, सफीदों लाइन की  चालानी मांग काफी कम रह जाने से 25 रुपए घटकर 1575 रुपए पहुंच में रह गया। हाजिर में भी यहां 5/10 रुपए की नरमी रही।
तेल-तिलहन-तेल मिलों की मांग घटने से लारेंस रोड पर सरसों 50 रुपए घटकर 4100/4200 रुपए प्रति क्विंटल रह गयी। उठाव न होने से सरसों तेल भी 8600 से घटकर 8580 रुपए रह गया। मांग घटने से बिनौला तेल भी 7200 से गिरकर 7180 रुपए पर आ गया। जबकि आपूर्ति कमजोर होने से तिल तेल 100 रुपए बढ़कर 15800 रुपए प्रति क्विंटल हो गया। ऊंचे भाव पर मांग घटने से अखाद्य तेलों में अरंडी तेल 100 रुपए घटकर 11000/11100 रुपए रह गया।
गुड़-चीनी-मांग कमजोर होने से चीनी 20/30 रुपए घटकर मिल डिलीवरी 3250/3440 रुपए तथा हाजिर में इसके भाव 3500/3700 रुपए रह गये। सरकार द्वारा आगामी माह के लिए 19-20 लाख टन चीनी का कोटा छोड़े जाने की चर्चा इसमें मंदे को बल मिला। उत्तर प्रदेश से आवक बढऩे के कारण गुड़ व शक्कर 100 रुपए क्विंटल घट गये।
किराना-मेवे- सिलीगुड़ी के तेज समाचार आने और त्योहारी मांग बढऩे से बड़ी इलायची  20/30 रुपए बढ़कर झुंडी वाली 575/580 रुपए एवं कैंचीकट के भाव 625/900 रुपए किलो हो गये। दालचीनी तीन रुपए और बढ़कर 183/185 रुपए किलो हो गयी। लौंग भी आयात पड़ता ऊंचा होने से 20 रुपए बढ़ाकर 570/620 रुपए किलो बोली जा रही थी। उठाव अच्छा होने से जावित्री पीली 30 रुपए की बढ़त लेकर 1470/1480 रुपए किलो पर पहुंच गयी। डिब्बा तेज होने से हल्दी इरोड ग_ïा एज़इटीज के भाव 7800/7900 रुपए एवं मोटी फली के भाव 10600/10700 रुपए हो गये।  जीरा एवरेज भी 200 रुपए बढ़ाकर 20600/20700 रुपए क्विंटल बोला जा रहा था। जबकि मगज तरबूज तीन रुपए किलो मुलायम रहा। मेवों में नये माल का आयात बढऩे से बादाम कैलिफोर्निया 700/800 रुपए गिरकर 18500/18700 रुपए प्रति  40 किलो पर आ गया। इसकी गिरी 15 रुपए घटकर 670/690 रुपए किलो रह गयी।
सर्राफा बाजार-विदेशों के मंदे समाचार आने से सर्राफा बाजार में चांदी के भाव 100 रुपए प्रति किलो घट गये। मांग कमजोर होने से सोने के भाव दबे रहे। अंतर्राष्टï्रीय बाजार में चांदी के भाव 1465 से घटकर 1460 सेंट प्रति औंस रह जाने तथा औद्योगिक मांग घटने से चांदी हाजिर के भाव 39600 से घटकर 39500 रुपए प्रति किलो रह गये। जबकि लिवाली सुधरने से चांदी वायदा 25 रुपए बढ़कर 38735 रुपए प्रति किलो हो गये। विदेशों में सोने के भाव 1233 डॉलर प्रति औंस पर सुस्त होने तथा मांग कमजोर होने से सोना किलोबार 32400 रुपए तथा स्टैंडर्ड के भाव 32550 रुपए पर सुस्त रहे। गिन्नी में भी मांंग के अभाव से कारोबार कमजोर रहा। विदेशों में उठाव न होने से कच्चा तेल 10 सेंट घटकर 67.49 डॉलर प्रति बैरल रह गये।