Tel: 0542 - 2393981-87 | Mail: ajvaranasi@gmail.com


भारतीय कंपनियोंका विदेशी उपक्रमोंमें निवेश 47 प्रतिशत घटा

मुंबई। भारतीय कंपनियों का अपने विदेशी उपक्रमों में निवेश सितंबर महीने में 47 प्रतिशत घटकर 1.54 अरब डॉलर रह गया। पिछले साल सितंबर में भारतीय कंपनियों ने विदेशों में अपने संयुक्त उद्यमों तथा पूर्ण स्वामित् वाली अनुषंगियों में 2.91 अरब डॉलर का निवेश किया था। अगस्त में घरेलू कंपनियों का विदेशी इकाइयों में निवेश मात्र 99.21 करोड़ डॉलर था।  सितंबर में हुये कुल निवेश में से 95.08 करोड़ डॉलर ऋण के रूप में, 25.18 करोड़ डॉलर इक्विटी पूंजी के रूप में और 35.20 करोड़ डॉलर गारंटी के रूप में निवेश किए गए। प्रमुख निवेशकों में यूपीएल शामिल रही जिसने मॉरीशस में अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी में 40.81 करोड़ डॉलर का निवेश किया। सनमार ग्रुप इंटरनेशनल ने स्विट्जरलैंड में डब्ल्यूओएस में 7.75 करोड़ डॉलर और जेएसडब्ल्यू स्टील ने अमेरिका, इटली तथा चिली में अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली इकाइयों और संयुक्त उद्यमों में पांच किस्तों में 7.48 करोड़ डॉलर का निवेश किया।
केईसी इंटरनेशनल ने संयुक्त अरब में अपने संयुक्त उद्यम में 7.13 करोड़ डॉलर, ओएनजीसी विदेश लि. ने रूस और वियतनाम में अपने संयुक्त उद्यमों में 5.93 करोड़ डॉलर तथा सेज मेटल्स ने अमेरिका में अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली इकाई में 3.35 करोड़ डॉलर का निवेश किया।
भारत, जापानमें 5जी लैब बनानेके लिए टेक महिंद्रा, रॉकटेनके बीच करार
नयी दिल्ली। टेक महिंद्रा और जापान की दूरसंचार कंपनी रैकुटेन मोबाइल नेटवर्क ने तोक्यो और बेंगलुरु में 5जी और 4जी नेटवर्क परीक्षण केंद्र स्थापित करने के लिए सोमवार को एक समझौते पर हस्ताक्षर किये। दोनों कंपनियों की ओर से जारी संयुक्त बयान में कहा गया है, इस सहयोग के साथ रैकुटेन और टेक महिंद्रा का लक्ष्य विश्वस्तरीय 5जी रेडी नेटवर्क परीक्षण केंद्र की स्थापना करना है, जो उद्योग में अपने आप में अनूठा होगा। रैकुटेन जापान में पांच अरब डॉलर के निवेश के साथ चौथे मोबाइल नेटवर्क की शुरूआत करने वाला है। जापान में पहले से एनटीटी डोकोमो, केडीडीआई और सॉफ्टबैंक समूह के मोबाइल नेटवर्क हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जापान यात्रा से इतर यह घोषणा हुई है। भारत- जापान व्यावसायिक रिश्तों को और मजबूती देने में यह समझौता सहायक होगा। समझौते के तहत टेक महिन्द्रा नेटवर्क एकीकरण क्षमता भी उपलब्ध करायेगा।
ओएनजीओ जुटायेटी 50 लाख डॉलर
नयी दिल्ली। उद्यमियों और कारोबारियों को अपने व्यवसाय को डिजिटल बनाने तथा इसके लिए वेबसाइट एवं ऐप बनाने की सेवा प्रदान करने वाली कंपनी ओएनजीओ फ्रेमवर्क ने 50 लाख डॉलर जुटाने की योजना बनाई है। कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं संस्थापक रामा कुप्पा ने सोमवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि मितेश मजीठिया और अन्य रणनीतिक एंजिल इन्वेस्टरों से 10 लाख डॉलर की राशि जुटाने के बाद अब आगे की विस्तार योजनाओं के लिए 50 लाख डॉलर जुटाने की योजना बनाई गई है। उन्होंने कहा कि कारोबार विस्तार के लिए डिजिटल मार्केटिंग सॉल्यूशंस कंपनी हॉकीस्टिक मीडिया का अधिग्रहण किया गया है। उन्होंने कहा कि कंपनी ने एक लाख ग्राहक जोडऩे की योजना बनाई है और इसके मद्देनजर पूंजी जुटाने की आवश्यकता महसूस की जा रही है।
इस दिशा में वार्ता लगभग अंतम चरण में है। बढते ग्राहक-आधार के लिए एंड-टू-एंड डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन और ऑनलाइन ग्रोथ सॉल्युशन देने के लिए पोर्टफोलियो को विविधता दी जा रही है।